Home तीज एवं त्यौहार

इस बार होली पर विशेष संयोग, जानें शुभ मुहूर्त

409
0

सतना । आपसी राग द्वेष भुलाकर गले मिलने और रिश्तों में रंगों की रंगत के साथ मिठास घोलने वाला त्यौहार होली यूं तो हर किसी के लिए खास होता है लेकिन इस बार यह पर्व विशेष संयोग लेकर आ रहा है। बीते कई वर्षों बाद इस बार होली पर भद्रा का प्रभाव नही होगा।

होलिका के विशेष संयोग एवं होलिका दहन ,पूजन के बारे में छोटा स्थान सोहावल के आचार्य रमाकांत तिवारी बताते हैं कि फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा दिनांक 09 03 2020 को शायं 05 ,52 से 08,29 रात्रि तक होलिका दहन का सर्वोत्तम मुहूर्त है।
भद्रावास प्रातः 06,08 से दोपहर 12,32 तक है । पंचांग के अनुसार वर्ष 2020 में विगत कई वर्षों के बाद होलिका दहन भद्रा से मुक्त रहेगा जो इस वर्ष के होलिका दहन में विशेष संयोग है।  क्योंकि भद्रा में होलिका दहन करने से  और अशुभ फल की प्राप्ति होती है इसलिए भद्रा में होलिका दहन निषिद्ध माना जाता है। आचार्य रमाकांत बताते है  कि होलिका दहन के समय अग्नि में गाय का गोबर एवं घी दहन करना शुभ माना गया है। ऐसी मान्यता है कि होली की भस्म में देवताओं की कृपा होती है ।भस्म को ललाट में धारण जरने से भाग्यवृद्धि एवं भगवत कृपा  प्राप्त होती है।

मुहूर्त

होलिकापूजन प्रातः 09,35 से 11 ,03तक शुभ के चौघड़िया में अपरान्ह 03,25 से शायं 06,20 तक लाभ अमृत के चौघड़िया में किया जा सकता है। प्रदोषकाल के अतिरिक्त पूर्णिमा तिथि रात्रि 11,26 तक है अतः इस समय भी होलिका दहन किया जा सकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here