Home विदेश

ब्रिटेन में सामने आए मंकीपाक्स के 7 मामले, समलैंगिकों और बायसेक्सुअलों के लिए जारी की गई चेतावनी

52
0

लंदन । ब्रिटेन में मंकीपॉक्स के चार नए मामले मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। इसी के साथ देश में मंकीपॉक्स के कुल मामलों की संख्या बढ़कर सात हो गई है। ब्रिटेन में इस साल की शुरुआत में पहला मामला दर्ज किया गया था, जिसके बाद दूसरा मामला कुछ दिनों पहले पूर्वी इंग्लैंड में मिला था।

अब यूके हेल्थ सिक्युरिटी एजेंसी ने मंकीपॉक्स के मामले बढ़ने पर समलैंगिक और यौन संबंधों के लिए पुरूषों एवं महिलाओं के प्रति आकर्षित रहने वाले (बायसेक्सुअल) लोगों को चेतावनी दी है। इन लोगों को अपने साथी के शरीर में असमान्य लाल चकत्ते के प्रति सतर्क रहने को कहा गया है। यूके हेल्थ सिक्युरिटी एजेंसी (यूकेएचएसए) ने सोमवार शाम कहा कि सभी नए मामलों में तीन मामले लंदन से और एक मामला पूर्वी इंग्लैंड से है।

 

पीड़ितों ने खुद को समलैंगिक बायसेक्सुअल बताया है।
एजेंसी ने कहा कि मंकीपॉक्स लोकल है, इसका विदेश यात्रा से कोई संबंध नहीं है और कहां तथा कैसे यह संक्रमण हुआ, उसकी जांच की जा रही है। यूकेएचएसए की मुख्य चिकित्सा सलाहकार डॉ सुसान हॉपकिंस ने कहा कि हम विशेष रूप से पुरुषों और समलैंगिक तथा बायसेक्सुअल लोगों से किसी भी तरह के असमान्य लाल चकत्ते के प्रति सतर्क रहने का अनुरोध करते हैं। साथ ही, बगैर कोई देर किये यौन स्वास्थ्य सेवा से संपर्क करने का आग्रह करते हैं।

 

उन्होंने कहा यह (संक्रमण) दुर्लभ और असमान्य बीमारी है।
यूकेएचएसए इस संक्रमण के स्रोत की तेजी से जांच कर रही है क्योंकि साक्ष्यों से पता चलता है कि करीबी संपर्क के द्वारा समुदाय में मंकीपॉक्स वायरस का संचरण और प्रसार हो सकता है। उन्होंने कहा कि सातों ज्ञात मरीजों के संभावित करीबी संपर्क में आए लोगों को स्वास्थ्य सलाह देने के लिए उनसे संपर्क किया जा रहा है। हॉपकिंस ने कहा अभी चार नये मामलों में दो मरीजों के साझा संपर्कों की पहचान की गई है। यूकेएचएसए ने कहा कि यह वायरस लोगों के बीच आसानी से नहीं फैलता और ब्रिटेन की आबादी को कम खतरा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here