नाबालिग का अपहरण कर धर्म परिवर्तन का प्रयास, 4 दिन पहले स्कूल से लापता हुई थी

41
0

सतना जिले के मंझगवां में चार दिन से स्कूल से लापता 15 साल की हिंदू लड़की सोमवार रात को मिल गई है। एक नाबालिग पर लड़की को किडनैप कर रेप और धर्म परिवर्तन कराने का आरोप है। लड़की के मिलने के बाद हिंदूवादी संगठनों ने थाने के सामने प्रदर्शन किया। इसी दौरान किसी ने शहर में माहौल बिगाड़ने के लिए नाबालिग के पिता की कबाड़ की दुकान में आग लगा दी।

देर रात तनाव बढ़ता देख एडिशनल एसपी विक्रम सिंह कुशवाह और एसडीओपी मझगवां पहुंचे। पुलिस फोर्स भी बुला ली गई। पुलिस ने नाबालिग और उसके साथी को हिरासत में लिया। लड़की का मेडिकल करवाया है। इसके कुछ देर बाद ही लड़की के हिजाब में कलमा पढ़ते हुए फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे। बताया जा रहा है कि लड़की का नाम बदलकर अल्फिया खान रख दिया गया था। परिजनों और हिंदूवादी संगठनों ने पुलिस पर मामले में लापरवाही करने का आरोप लगाया है।

स्कूल से लापता हो गई थी लड़की

15 साल की लड़की 23 नवंबर को स्कूल में प्रार्थना के बाद लापता हो गई थी। परिजनों ने तलाश की तो पता चला कि एक युवक उसे बाइक पर बैठा कर साथ ले गया है। इसके बाद परिजन ने युवक के बारे में पता किया। युवक बम्बइया कबाड़ी का नौकर और उसके बेटे का दोस्त था।

परिजनों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। परिजनों का आरोप है कि पुलिस टालमटोल करती रही। पुलिस बार-बार यही बताती रही कि धर्मेंद्र बेल्दार से पूछताछ की है, लेकिन उसका मामले से कोई कनेक्शन नहीं मिला। लड़की भी संभवत पुणे चली गई है। पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट माता-पिता एसपी ऑफिस पहुंचे, लेकिन एसपी से मुलाकात नहीं हो सकी।

मझगंवा के ही संदेही युवक के घर से मिली

मामला संज्ञान में आने पर बसपा नेता सुभाष शर्मा डोली ने एडिशनल एसपी और एसपी से बात की। विहिप और बजरंगदल के कार्यकर्ता भी एक्टिव हुए। जिसके बाद लापता लड़की मझगवां के ही गोडान टोला के एक मकान में मिल गई। उसे यहां एक महिला के पास नजर बंद कर रखा था।

विहिप-बजरंग दल के कार्यकर्ता थाने पहुंच गए। कार्यकर्ता नाबालिग के पिता, धर्मेंद्र बेल्दार और लड़की को छिपाने में मदद करने वाली महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग पर अड़ गए।इसके बाद पुलिस ने नाबालिग और धर्मेंद्र बेल्दार को हिरासत में लिया। महिला को भी थाने में बैठा लिया।

4 महीने से परेशान कर रहा था नाबालिग

बजरंग दल के प्रांत गौ रक्षा प्रमुख सचिन शुक्ला का आरोप है कि नाबालिग ने पिता-भाई, दोस्त और महिला के साथ मिलकर लड़की को किडनैप किया। उसका धर्म परिवर्तन कराकर दुष्कर्म किया। लड़की की कुछ तस्वीरें भी सामने आईं, जिसमें वह कलमा पढ़ती दिख रही थी। उसका नाम भी बदल कर अल्फिया खान रख दिया गया था। नाबालिग पिछले 4 महीने से लड़की को परेशान कर रहा था। कुछ दिनों पहले उसे पकड़ा भी गया था। तब मामला दर्ज होने के बाद भी उसने हरकतें बंद नहीं कीं।

प्रदर्शन के दौरान कबाड़ में लगाई आग

मंझगवां थाने के बाहर हिंदूवादी संगठन के प्रदर्शन के दौरान नाबालिग के पिता की कबाड़ की दुकान में आग लगा दी गई। जिसमें लाखों का कबाड़ जल गया। बताया जा रहा है कि मामले से भटकाने के लिए आग लगाई गई। एडिशनल एसपी विक्रम सिंह कुशवाह ने बताया, लड़की की किडनैपिंग और आगजनी दोनों ही मामलों में जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here