मुनीम साहब!!

मुनीम साहब —आशुतोष राना हमारे यहाँ एक मुनीम साहब थे, जोड़ घटाने में अत्यंत निपुण। बाबूजी उनको समाधानी कहते थे, ऐसा नही है कि वे हर...

मीसा की कलुष स्मृतियाँ : क्रूरता की पराकाष्ठा और धैर्य से प्रतिउत्तर देते लोकतंत्र...

मीसा की कलुष स्मृतियाँ : क्रूरता की पराकाष्ठा और धैर्य से प्रतिउत्तर देते लोकतंत्र के सेनानी –डॉ विकास दवे (निदेशक, साहित्य अकादमी म. प्र.) 25 जून का...

पढ़िए क्यों चलाई महिला चिकित्सकों ने 25 किमी साइकिल

सतना । अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में  8 मार्च  को सतना साइकिलिंग क्लब, महिला चिकित्सकों एवं स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के सहयोग से...

कबीर के राम

“ कबीर के राम ” ―डॉ.राजेन्द्र कुमार सिंघवी   कबीर भया है केतकी, भँवर भये सब दास । जहाँ-जहाँ भक्ति कबीर की, तहँ-तहँ राम-निवास ।। अर्थात् कबीर के ‘राम’...

राजा राम

राजा राम ― अभिजीत सिंह 'भारत भूमि' पर 'पृथु' से लेकर 'हरिश्चंद्र', 'मान्धाता' और 'रघु' से लेकर 'श्रीकृष्ण' और 'युधिष्ठिर' तक जितने राजा हुये उनकी संख्या...

टी20 में 30 से अधिक उम्र में डेब्यू करने वाले छठे खिलाड़ी बने...

रांची । रांची के मैदान पर न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टी-20 मैच में भारतीय टीम की ओर से हर्षल पटेल ने डेब्यू...

चित्रकूट की राम कहानी ; जहाँ आकर सत्ता भी पदकंदुक बनकर रह गई थी!

चित्रकूट की राम कहानी ; जहाँ आकर सत्ता भी पदकंदुक बनकर रह गई थी! -जयराम शुक्ल कामदगिरि की परिक्रमा और रामनाम के जाप के साथ नेता...

2 दिन में 4 घंटे सोने वाले ईशांत ने कहा- टीम के लिए कुछ...

वेलिंगटन: भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जा रहा पहला टेस्ट रोमांचक मोड़ की ओर बढ़ रहा है. भारतीय टीम (Team India) मैच के दूसरे दिन अपनी...

‘दीप’ हमारी सभ्यता और संस्कृति की अलौकिकता का प्रतीक है

‘दीप’ हमारी सभ्यता और संस्कृति की अलौकिकता का प्रतीक है ~कृष्णमुरारी त्रिपाठी अटल भारतीय धर्म-दर्शन में दीप का अपना अलग महत्व है। हमारे त्यौहार , दैनन्दिनी,...

मनुष्य मरणधर्मा हैं, मगर मनुष्यता न मरे…!

मनुष्य मरणधर्मा हैं, मगर मनुष्यता न मरे...! ―डॉ.विवेक चौरसिया संसार के सारे धर्मावलंबियों में हिन्दू गज़ब हैं। इसलिए कि उनके पास जीवन से जुड़े गूढ़ प्रश्नों...
20,539FansLike
2,325FollowersFollow
0SubscribersSubscribe