चैत्र नवरात्रि पर घर बैठे कीजिये मैहर वाली माता शारदा के दर्शन

सतना ।मंगलवार से शुरू हुए शक्ति आराधना के पर्व नवरात्रि पर इस बार भी कोरोना संक्रमण ने असर डाला है।इस बार भी नवरात्रि पर...

विश्व की महान संस्कृति का ध्वजवाहक है हिन्‍दू नववर्ष

विश्व की महान संस्कृति का ध्वजवाहक है हिन्‍दू नववर्ष ―कृष्णमुरारी त्रिपाठी अटल हमारी भारतीय संस्कृति का पावन पुनीत पर्व जिसे सृष्टि का आरंभ कहते यह पर्व...

नवसंवत्सर के शुभारम्भ पर जानिए हिन्दू वर्ष कैलेण्डर और तथ्य

नवसंवत्सर ;जानिए हिन्दू वर्ष कैलेण्डर और तथ्य बहुत खुशी की बात यह है कि प्रमादी नाम का यह विक्रम संवत् इस चैत्र की अमावस्या को...

सीता-निर्वासन: अवध के लोकगीतों में-३/राम का पक्ष साहित्य परंपरा में

सीता-निर्वासन की कथा: अवध के लोकगीतों में-३ ―कमलाकांत त्रिपाठी राम का पक्ष: साहित्य-परम्परा में- कोटि-कोटि लोगों की आस्था के केंद्र राम का भी कोई पक्ष तो होगा,...

सीता-निर्वासन: अवध के लोकगीतों में-२

"सीता-निर्वासन: अवध के लोकगीतों में-२" ―कमलाकांत त्रिपाठी प्रथम अंक पढ़ें- https://www.newspostmortem.com/sita-expulsion-in-the-folklore-of-awadh/ क्या सीता वन से वापस लौटीं ? इस प्रसंग पर कम से कम दो अलग-अलग सोहर-गीत हैं। एक...

सीता-निर्वासन : अवध के लोकगीतो में―कमलाकांत त्रिपाठी

"सीता-निर्वासन : अवध के लोकगीतो में" ―कमलाकांत त्रिपाठी राम-कथा मिथक है, इतिहास नहीं. लेकिन कोई भी मिथक शून्य में नहीं बनता।कुछ यथार्थ में घटित होता है...

जीवनभक्षी दो गिध्द

जीवनभक्षी दो गिध्द लेखक- श्री प्रोफेसर विश्वनाथजी विद्यालंकार प्रस्तोता- प्रियांशु सेठ अथर्ववेद ७/९५/१-३, तथा ७/९६/१ में दो गीधों का वर्णन मिलता है। गिध्द-पक्षियों का काम है मांस...

हिन्दुओं :इतिहास बोध के सचेत अध्ययन एवं प्रत्युत्तर देने की सख्त जरूरत है

हिन्दुओं :इतिहास बोध के सचेत अध्ययन एवं प्रत्युत्तर देने की सख्त जरूरत है ―शिव कुमार भारतीय इतिहास के कालखण्ड 712 ईस्वी से लेकर 1192 ईस्वी के...

गणेश चतुर्थी विशेष-भगवान गजानन:सर्वसिद्धि प्रदाता ज्ञान -विज्ञान के अक्षय कोष

भगवान गजानन:सर्वसिद्धि प्रदाता ज्ञान विज्ञान के अक्षय कोष ―डॉ.मधुसूदन पराशर "उपाध्याय"   पाँच तत्वों- पृथ्वी, आकाश, वायु, अग्नि और जल- से समुद्भूत ही समस्त जीवों के शरीर...

राम, कृष्ण, मुक्ति संघर्ष और स्वतंत्रता―विमर्श/जयराम शुक्ल

राम, कृष्ण, मुक्ति संघर्ष और स्वतंत्रता   ―विमर्श/जयराम शुक्ल ऋतुराज वसंत शौर्य, उत्सव और उत्सर्ग के लिए जाना जाता है तो पावस(वर्षा ऋतु) की हरीतिमा से पवित्रता,...
20,539FansLike
2,325FollowersFollow
0SubscribersSubscribe