Home सिने-जगत

ईशा को है दिल की बात नहीं सुनने का मलाल

49
0

मुंबई । बॉलीवुड एक्ट्रेस ईशा गुप्ता को इस बात का मलाल है कि वह बचपन नें अपने दिल की बात नहीं सुन पाई क्योंकि उन्हें उन दिनों समझने की काबिलियत नहीं थी। एक्ट्रेस बनने से पहले वह एडवोकेट (वकील) बनने के लिए बिल्कुल तैयार थीं क्योंकि वह लॉ (कानून) की पढ़ाई कर रही थी। आगे इस बारे में उन्होंने बात करते हुए कहा कि काश उन्होंने अपने आप से कहा होता, ‘एक्टिंग का कोर्स मत करो, बस अपने सपनों को फॉलो और वकील बनो’। ईशा गुप्ता ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा, “शायद मैंने खुद से कहा होता, ‘एक्टिंग का कोर्स मत करो, बस अपने सपनों का पीछा करो और लॉयर बनो’।

हालांकि फिर मुझे लगा कि मैं अभी भी एक एक्ट्रेस बन सकती हूं क्योंकि मुझे सच में विश्वास है कि जो आपके लिए है वह आपको मिल कर रहेगा।।शायद मैं खुद को खुश रहने के लिए कहूंगी कि तुम्हारे पास टेलीफोन नहीं है। लेकिन खुशी है कि आपके पास एक वास्तविक जीवन है। खुश है कि आप सब कुछ कर सकते हैं। बाहर जाओ और गेम खेलो। बता दें कि ईशा ने एलएलबी कर रखी हैं। वह कभी एक्ट्रेस की जगह लॉयर बनना चाहती थीं, लेकिन किस्मत ने उन्हे एक्ट्रेस बना दिया। बातचीत में आगे ईशा ने अपनी बात को एक मैसेज के साथ खत्म करते हुए कहती हैं, ‘ मैं यह भी कहूंगी, ‘एक बार जब तुम बड़े हो जाओगे, तो जीवन बदल जाएगा, दुनिया बदल जाएगी और कभी किसी को खुद को जज नहीं करने देना’। आपको बता दें कि ईशा गुप्ता बॉलीवुड में सबसे प्रतिभाशाली और होनहार अभिनेत्रियों में से एक हैं।

उन्होंने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत 2012 की क्राइम थ्रिलर ‘जन्नत 2’ से की थी। इस फिल्म में वह एक्टर इमरान हाशमी और रणदीप हुड्डा के साथ देखी गई थीं और तब से उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। ईशा गुप्ता को हाल ही में ‘आश्रम 3’ में बॉबी देओल के साथ देखा गया था। इस सीरीज में ईशा को सोनिया के किरदार मे देखा गया था। सीरीज में बॉबी देओल संग ईशा गुप्ता ने कई इंटीमेट सीन दिए हैं। इसकी वजह से वह लागातार खबरों में हैं। प्रकाश झा द्वारा निर्देशित, ‘आश्रम 3’ का प्रीमियर 3 जून को एमएक्स प्लेयर पर रिलीज हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here